Advertisement

jamshedpur

  • Apr 21 2017 8:17AM

खाना पहुंचाने वाले बन कर कमांडो प्लेन में घुसे

खाना पहुंचाने वाले बन कर कमांडो प्लेन में घुसे
 जमशेदपुर: सोनारी एयरपोर्ट पर गुरुवार की शाम प्लेन हाइजैक होकर एयरपोर्ट पर आता है, तो क्या करना है, इसका मॉक ड्रिल किया गया. मॉक ड्रिल में दमकल को प्लेन के आगे  खड़ा कर बातचीत जारी रखी गयी, ताकि प्लेन उड़ान नहीं भर सके अौर यात्रियों को खाना पहुंचाने वालों के वेष में कमांडों को भेज कर बंधकों को सकुशल मुक्त कराया गया.

 मॉक ड्रिल में समिति के चेयरमैन उपायुक्त के प्रतिनिधि के तौर पर एडीसी सुनील कुमार, एसएसपी के प्रतिनिधि के तौर पर डीएसपी मुख्यालय कैलाश करमाली, एटीसी के निदेशक, स्वास्थ्य विभाग (एबुलेंस), फायर सर्विस (दमकल) समेत एयरपोर्ट के कर्मचारियों की टीम मौजूद थी. कोलकाता स्थित एयरपोर्ट के अधिकारी को पत्र लिख कर  19 को मॉक ड्रिल करने की अनुमति ली गयी थी. मॉक ड्रिल के पूर्व किस विभाग की टीम को क्या करना है इसकी ब्रिफिंग की गयी, जिसके बाद एक गाड़ी को हाइजैक किया हुआ प्लेन माना गया, जिसकी लैंडिंग की अनुमति, रिफिलिंग की व्यवस्था की गयी तथा सबसे पहले दमकल को प्लेन के सामने खड़ा कर दिया गया, ताकि प्लेन उड़ान नहीं भर सके. इसके बाद कॉकपिट में लगे वॉकी-टॉकी के माध्यम से अपहर्ता बने एयरपोर्ट के कर्मियों से बंधक बनाये गये यात्रियों को रिहा करने के लिए वार्ता शुरू की गयी. 

वार्ता के दौरान खाना मंगाये जाने पर जिला पुलिस के कमांडों को खाना वाला बना कर भेजा गया अौर कमांडों कार्रवाई कर सभी यात्रियों को मुक्त कराया गया. अॉपरेशन संपन्न होने के बाद पुन: ब्रिफिंग की गयी अौर बताया गया कि अॉपरेशन के दौरान किन्हें क्या करना था अौर क्या चूक हुई. शहर में पहली बार प्लेन हाइजैकिंग को लेकर मॉक ड्रिल किया गया.
 

Advertisement

Comments

Advertisement