Advertisement

dumka

  • May 18 2017 6:38AM

विमल ने की थी आत्महत्या जांच में नहीं मिला कोई सुराग

 बीसीए सेमेस्टर-1 के छात्र की हत्या की गुत्थी पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद सुलझी

15 मई को विमल का शव नागडीह मुहल्ले के एक कमरे से हुआ था बरामद
गोड्डा के पोड़ैयाहाट प्रखंड के हरियारी गांव का रहने वाला था विमल
परिजन जता रहे थे हत्या की आशंका
 
 दुमका : एसपी कॉलेज दुमका के बीसीए सेमेस्टर-1 के छात्र विमल कुमार भगत ने आत्महत्या की थी. उसकी हत्या नहीं हुई थी, बल्कि उसने खुद ही फांसी लगाकर जान दी थी. इस बात की पुष्टि उसके पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हुई है. रिपोर्ट में हत्या जैसी किसी संभावना का कोई प्रमाण नहीं मिला है. 15 मई को विमल का शव नागडीह मुहल्ले के एक कमरे से पुलिस ने बरामद किया था. वह गोड्डा के पोड़ैयाहाट प्रखंड के हरियारी गांव का रहने वाला था और दिसंबर माह में ही उसने बीसीए में नाम लिखाया था. दुमका में रहने के लिए उसने दुमका-रसिकपुर के उक्त मुहल्ले में एक कमरा किराये पर लिया था.
 
पुलिस ने उसी कमरे से शव को कब्जे में लिया था. पुलिस आत्महत्या मान रही थी लेकिन परिजन हत्या का संदेह व्यक्त कर रहे थे. लिहाजा पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम का अनुरोध किया था. सदर अस्पताल के तीन चिकित्सकों वाली मेडिकल बोर्ड में शामिल डॉ सीपी सिन्हा, डॉ रंजन सिन्हा व डॉ सुदीप्तो कुमार ने विमल के शव का पोस्टमार्टम किया था. बारीकी से जांच करने के बाद भी चिकित्सकों को कुछ ऐसा नहीं मिला, जो हत्या की पुष्टि करता हो. 
दुमका के किसी लड़की से थी दोस्ती
जानकारी के मुताबिक विमल की दुमका में ही रहने वाली किसी लड़की से जान-पहचान थी. कहा जा रहा है लड़की द्वारा इंकार किये जाने की वजह से वह संभवत: आहत था. जिसकी वजह से ही उसने आत्महत्या कर ली. 
 
Advertisement

Comments

Advertisement