Advertisement

dhanbad

  • Apr 21 2017 7:59AM

स्वच्छताग्रही में धनबाद देश में चौथे स्थान पर

धनबाद: धनबाद के दामन पर लगा गंदे शहर का दाग धुल जायेगा. धनबाद पर बनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म के बाद अब स्वच्छताग्रही की रैंकिंग में धनबाद को चौथा का मिला है. यह संकेत देता है कि स्वच्छता सर्वेक्षण में धनबाद की रैंकिंग अच्छी होगी. गुरुवार को शहरी विकास मंत्रालय द्वारा स्वच्छताग्रही की रैंकिंग जारी की गयी. देश के बारह शहरों की सूची में महाराष्ट्र, गुजरात व तेलंगाना के बाद धनबाद को स्थान मिला है. माह के अंत तक स्वच्छता सर्वेक्षण का रिजल्ट भी प्रकाशित होगा.
 
33602 शिकायतों का किया गया निवारण : 33602 शिकायतों का निवारण कर धनबाद नगर निगम इस मुकाम पर पहुंचा है. स्वच्छता एप व पब्लिक फीड के टीम लीडर विक्की कुमार साव को स्वच्छताग्रही के लिए चुना गया है. शहरी विकास मंत्री के हाथों से स्वच्छताग्रही विक्की को पुरस्कार दिया जायेगा. 
 
दिन रात की मेहनत का फल : विक्की : स्वच्छ भारत मिशन के टीम लीडर विक्की कुमार साव ने कहा कि स्वच्छता एप व पब्लिक फीड के लिए नगर निगम की ओर से 25 सदस्यीय टीम का चयन किया गया था. लक्ष्य था कि कैसे धनबाद के दामन से गंदे शहर का दाग धोयें. पूरी टीम ने दिन व रात मेहनत की. डोर टू डोर, मार्केट और विभिन्न कार्यालयों में जाकर लोगों से  स्वच्छता एप डाउनलोड कराया और उनसे उनके क्षेत्र की समस्या को एप में अपलोड करने की अपील की. इसी का परिणाम है कि आज धनबाद बेहतर स्थान पर है. 
 
स्वच्छता सर्वेक्षण 2017 का परिणाम माह के अंत तक आयेगा. स्वच्छता एप व पब्लिक फीड बैक में 650 अंक निर्धारित थे. इसमें धनबाद नगर निगम के स्वच्छताग्रही का चयन किया गया है. स्वच्छ भारत मिशन के  केटेगरी-1 में धनबाद का नाम आया है, जो गर्व की बात है.
प्रदीप कुमार प्रसाद, अपर नगर आयुक्त 
 
 

Advertisement

Comments

Advertisement