Advertisement

cricket

  • Apr 21 2017 8:02PM

IPL : कप्‍तान सुरेश रैना की धमाकेदार पारी से जीता गुजरात

IPL : कप्‍तान सुरेश रैना की धमाकेदार पारी से जीता गुजरात

कोलकाता : कप्तान सुरेश रैना की धमाकेदार पारी से गुजरात लायन्स ने आज यहां कोलकाता नाइटराइडर्स को चार विकेट से शिकस्त देकर आईपीएल दस में फिर से जीत की राह पकडी और अपने इस प्रतिद्वंद्वी से राजकोट में मिली पिछली जीत का बदला भी चुकता किया. 

ये भी पढ़ें... IPL : अमला का शतक बेकार, मुंबई इंडियंस ने पंजाब को आठ विकेट से रौंदा

केकेआर ने पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर पांच विकेट पर 187 रन बनाये. सलामी बल्लेबाज के रुप में उतरे सुनील नारायण ने 17 गेंदों पर नौ चौकों और एक छक्के की मदद से 42 रन बनाये जबकि उथप्पा ने 48 गेंदों पर 72 रन बनाये जिसमें आठ चौके और दो छक्के शामिल हैं. कप्तान गौतम गंभीर ने 28 और मनीष पांडे ने 24 रन का योगदान दिया. आरोन फिंच (15 गेंदों पर 31) और ब्रैंडन मैकुलम (17 गेंदों पर 33) ने लायन्स को तेजतर्रार शुरुआत दिलायी लेकिन वह रैना थे जिन्होंने टीम की जीत सुनिश्चित की. बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने 46 गेंदों पर नौ चौकों और चार छक्कों की मदद से 84 रन बनाये जिससे लायन्स ने 18.2 ओवर में छह विकेट पर 188 रन बनाकर जीत हासिल की. रविंद्र जडेजा (19) ने विजयी चौका लगाया. लायन्स की यह छह मैच में दूसरी जीत है जिससे उसके चार अंक हो गये हैं और वह सातवें स्थान पर आ गया है. केकेआर ने लगातार तीन जीत के बाद पहली हार का स्वाद चखा. उसके अब छह मैचों में चार जीत से आठ अंक हैं. लायन्स का जब लक्ष्य का पीछा करने उतरा तो मैकुलम ने शाकिब अल हसन के पहले ओवर में दो चौके लगाये लेकिन इसके बाद आरोन फिंच ने जिम्मा संभाला.

इन दोनों ने पहले विकेट के लिये 42 रन जोडे जिसमें फिंच के 31 रन शामिल हैं. उन्होंने नारायण का स्वागत दो चौकों से किया और फिर शाकिब के अगले ओवर में फिर से यहीं करिश्मा दोहराया. उन्होंने नाथन कूल्टर नाइल (36 रन देकर दो विकेट) की गेंद पर डीप स्क्वायर लेग पर आसान कैच थमाया. 

मैकुलम ने इसी ओवर की आखिरी तीन गेंदों पर दो चौके और एक छक्का लगाकर अपने तेवर दिखाये लेकिन पांच ओवर के बाद जब स्कोर एक विकेट पर 62 रन था तभी बारिश आ गयी और खेल रोकना पडा. आधे घंटे बाद जब खेल शुरु हुआ तो मैकुलम की लय बिगड गयी और उन्होंने क्रिस वोक्स की गेंद पर सीमा रेखा पर खडे पांडे को कैच थमा दिया. मैकुलम ने अपनी पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया. दिनेश कार्तिक : तीन : लगातार दूसरे मैच में नहीं चल पाये. कूल्टर नाइल की गेंद पर गंभीर ने कवर पर उन का अच्छा कैच लिया. रैना भी वोक्स के अगले ओवर में पवेलियन लौट जाते लेकिन यूसुफ पठान ने सीमा रेखा पर उनका मुश्किल कैच छोड दिया और गेंद छह रन के लिये चली गयी. इशान किशन को पिछले मैच की तूफानी पारी के कारण उपरी क्रम में भेजा गया लेकिन वह 11 गेंदों पर चार रन बनाकर दबाव में हवा में कैच लहरा गये.

गंभीर ने उमेश यादव को 13वें ओवर में गेंद सौंपी और उन्होंने अपने पहले ओवर में ही ड्वेन स्मिथ (पांच) को चलता कर दिया. रैना ने टी20 में अपना 39वां अर्धशतक पूरा करने के बाद उमेश के अगले ओवर में पहले छक्का और फिर चौका तथा कूल्टर नाइल पर दो चौके और एक छक्का लगाया. कुलदीप यादव (33 रन देकर दो विकेट) की गेंद पर पांडे को कैच देने से पहले उन्होंने इस चाइनामैन गेंदबाज की गेंद भी छह रन के लिये भेजी. इससे पहले नारायण ने पहले ओवर से ही दनादन चौके जडकर केकेआर के स्कोर को सुपरफास्ट गति दी. पहले ओवर में प्रवीण कुमार पर तीन चौके, दूसरे ओवर में जेम्स फाकनर पर चार चौके और फिर पहले बदलाव के लिये बासिल थम्पी के ओवर में दो चौके और एक छक्का, ऐसा लग रहा था कि नारायण को सिर्फ गेंद और सीमा रेखा नजर आ रही है. 

 ये भी पढ़ें... इस एक्ट्रेस के साथ सुनसान द्वीप पर जाना चाहते हैं भुवनेश्वर कुमार

रैना को चौथे ओवर में दूसरे बदलाव के तौर पर खुद गेंद संभालनी पडी. नारायण ने उनकी गेंद भी मिडविकेट पर उठा दी थी लेकिन वहां फाकनर ने उसे कैच कर दिया. इस तरह से नारायण ने अपने सभी 42 रन चौके और छक्कों से बनाये जो कि आईपीएल में नया रिकार्ड है. 

इससे पहले 2008 में सनथ जयसूर्या ने मुंबई इंडियन्स की तरफ से डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ अपने सभी 36 रन बाउंड्रीज से बनाये थे. गंभीर और उथप्पा ने इसके बाद लगातार स्ट्राइक रोटेट की और ढीली गेंदों पर शाट जमाये. इन दोनों ने टी20 में जोडीदार के तौर पर अपने रनों की संख्या 2000 के पार पहुंचायी. 

यह उपलब्धि हासिल करने वाली यह चौथी जोडी है. गंभीर ने रविंद्र जडेजा पर मिडविकेट पर इस आईपीएल सत्र का अपना पहला छक्का भी जमाया जबकि उथप्पा ने 11वें ओवर में धवल कुलकर्णी की गेंद छह रन के लिये भेजकर केकेआर का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया. इन दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिये 69 रन की साझेदारी का अंत फाकनर ने किया जिनकी गेंद गंभीर के बल्ले के बाहरी किनारे से लगकर हवा में तैर गयी और रैना ने उसे खूबसूरती से कैच में तब्दील कर दिया. 

गंभीर ने 33 गेंदें खेली तथा दो चौके और एक छक्का लगाया. उथप्पा ने एक छोर संभाले रखा. उन्होंने जडेजा पर लगातार दो चौके जडकर टी20 में अपना 28वां अर्धशतक पूरा किया. उन्होंने इसके बाद थम्पी पर लांग आफ पर चौका लगाने के बाद अगली गेंद मिडविकेट पर छह रन के लिये भेजी लेकिन प्रवीण को यही सबक सिखाने के प्रयास में लांग आन पर कैच थमा दिया. उथप्पा ने पांडे के साथ तीसरे विकेट के लिये 55 रन जोडे. यूसुफ पठान 11 रन बनाकर नाबाद रहे. 

Advertisement

Comments

Advertisement