Advertisement

buxar

  • May 18 2017 4:06AM

दहेज के लिए विवाहिता की हत्या, शव गायब

 इटाढ़ी : दहेज के लिए एक विवाहिता की हत्या करने का मामला सामने आया है. हत्या के बाद साक्ष्य को मिटाने के लिए शव को गायब कर दिया गया है. हत्या का आरोप विवाहिता के ससुराल के लोगों पर लगा है. पुलिस मामले की छानबीन करते हुए नामजदों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी कर रही है. जानकारी के भोजपुर जिले के जगदीशपुर निवासी देवव्रत ओझा ने अपनी बेटी शिल्पी की शादी वर्ष 2011 में इटाढ़ी थाना क्षेत्र के जलवासी गांव निवासी जवाहरलाल दूबे के पुत्र ब्रजेश दूबे के साथ की थी.

शादी के बाद से ही दहेज की मांग को लेकर ससुराल के लोग शिल्पी को परेशान करते थे. कुछ दिन पहले ब्रजेश अपनी पत्नी एवं दो बच्चों के साथ गुजरात चला गया था. एक सप्ताह पहले पति ने पत्नी व बच्चों को गांव पहुंचा दिया. मंगलवार की देर शाम ससुरालवलों ने मिल कर बहू की हत्या कर साक्ष्य को मिटाने के लिए अंतिम संस्कार कर दिया. इसकी भनक मिलते ही मृतक के पिता देवव्रत ओझा ने बेटी के ससुराल पहुंचे, जहां घर में ताला लटका हुआ पाया. इसकी सूचना थाने को देते हुए मृतक के पति ब्रजेश दूबे, ससुर जवाहर दूबे, सास लक्ष्मी देवी, ननद गुड़िया कुमारी, देवर भरत दूबे, रामू दूबे, भोला दूबे आदि पर नामजद प्राथमिक दर्ज करायी है. 

 
Advertisement

Comments

Advertisement