Advertisement

arwal

  • May 19 2017 12:22AM

नप स्थायी समिति की बैठक में कई प्रस्तावों पर हुई चर्चा

 अरवल ग्रामीण : नगर पर्षद कार्यालय में स्थायी सशक्त समिति की बैठक मुख्य पार्षद नित्यानंद सिंह की अध्यक्षता में किया गया. जिसमें पूर्व के सात बिंदुओं पर चर्चा की गयी. इस दौरान नगर पर्षद कार्यपालक पदाधिकारी से स्वच्छ भारत मिशन, साफ-सफाई, सामग्री क्रम, रखरखाव से संबंधित कार्यों की प्रगति की जानकारी ली गयी.

साथ ही निर्देश दिया गया की 18 मई को सशक्त स्थायी समिति की बैठक में लिये गये. प्रस्ताव को प्रस्तुत करें. साथ ही साथ कार्यपालक पदाधिकारी से आवंटन के बारे में पूछा गया कि इसमें अध्यक्ष की सहभागिता होनी चाहिए या नहीं. इसके लिए उन्हें आय-व्यय का ब्योरा प्रस्तुत करने को कहा गया. नप अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि पूर्व के पारित प्रस्ताव में एक रुपये भी बिना अध्यक्ष की सहमति से खर्च नहीं करना है. लेकिन बिना अध्यक्ष की सहमति से राशि की खर्च की जा रही है.

इसके विरुद्ध में कार्यपालक पदाधिकारी व लेखापाल पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया. इस दौरान पूर्व के प्रस्ताव पर चर्चा भी किया गया. जिसमें डस्टबीन, पाल माउंटेन बीन हाइ मास्क लाइट के अलावा अन्य महत्वपूर्ण कार्य के निविदा निकालने और उसे रद्द करने जैसे शब्द इस्तेमाल किया जाता है. आरोप लगाया गया है कि इसके कारण अरवल को विकास कार्य बाधित है एवं सशक्त स्थायी समिति के सदस्य परेशान भी हैं. कार्यपालक पदाधिकारी पर मोटी रकम लेने के बाद ही कार्य स्वीकृतादेश देने का आरोप लगाया गया है. मुख्यालय शहर के एनएच 98 पर नाली का निर्माण शीघ्र नहीं कराया जायेगा तो इसके लिए निर्णय लिया गया कि दुकानदार संघ के साथ बड़ा आंदोलन किया जायेगा. 

बैठक में अरविंद सिंह, गीता देवी, बैजनाथ प्रसाद के अलावा कार्यपालक पदाधिकारी भी मौजूद थे.
 

Advertisement

Comments

Advertisement